Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोज :
Find us on Facebook View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

यात्री सेवा

न्यूज़/प्रेस विज्ञप्ति

अद्यतन

निविदाओं और अधिसूचनाएं

प्रदायक सूचना

सम्पर्क करें/अन्य

Training on SECR
बहू-उद्देश्यीय प्रशिक्षण केंद्र
ELTC/Uslapur
ETC/Bilaspur
DETC/Dongargarh
DTTC/MIB/Nagpur
DTTC/Dongargarh
STC/BMY
General Manager
दृष्टि
परिचय
मिशन
संगठन
विभाग
पोर्टल नीतियां
मंडल/वर्क शॉप
आर.आर. बी.बिलासपुर
अचल संपत्ति रिटर्नस
तंत्र मानचित्र
आपदा प्रबंधन
फोटो गैलरी
रेल म्यूज़ियम
पर्यटन
कॉर्पोरेट की सामाजिक जिम्मेदारी
Corporate Social Responsibility
----
ज़ेड.आर.यू.सी.सी. समिति के सदस्यों की सूची
पारस्परिक स्थानांतरण


 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
ट्रेनिंग

                                  दक्षिण पूर्व मध्‍य रेलवे पर प्रशिक्षण

 

प्रशिक्षण,मानव संसाधन प्रबंधन के एक महत्‍वपूर्ण पहलू का निर्माण करता है, जिस पर बहुत ज्‍यादा बल देने की आवश्‍यकता नहीं है । संरक्षा पुनरीक्षण समिति की सिफारिशों पर आधारित रेलवे बोर्ड के अनुदेशों के अनुसार पदोन्‍नति से पहले विशेष तौर संरक्षा कोटि के पदों के संबंध में , प्रशिक्षण अनिवार्य कर दिया गया है । इससे प्रशिक्षण को सार्थकता मिलती है । इसलिये उपलब्‍ध प्रशिक्षण संसाधनों को सरल एवं कारगर बनाने तथा उसे बढ़ाने के उद्देश्‍य से प्रशिक्षण नियमावली 2000 के प्रावधानों का अनुपालन करने के लिए सीटीएसई द्वारा इसका निर्माण किया गया है ।

 

दक्षिण पूर्व रेलवे के विभाजन से पहले अविभाजित दक्षिण पूर्व रेलवे के एक भाग के तौर पर बिलासपुर,रायपुर तथा नागपुर मंडलों की प्रशिक्षण जरूरतों को पूरा करने के लिए खड़गपुर में सुपरवाइजर प्रशिक्षण केंद्र और सीनी में जोनल प्रशिक्षण केन्‍द्र जैसे बड़े प्रशिक्षण केंद्रो का उपयोग किया जाता रहा। दक्षिण पूर्व मध्‍य रेलवे बिलासपुर के प्रारंभ होने के बाद इस रेलवे में प्रशिक्षण की आधारभूत संरचना का ढांचा निर्माण करने के प्रयास किये गये,जिसके परिणामस्‍वरूप विगत वर्षों में विद्युत चालक प्रशिक्षण केंद्र (ईएलटीसी) उसलापुर तथा हाल ही में बहु अनुशासनिक प्रशिक्षण केन्‍द्र का निर्माण किया गया । इसके अतिरिक्‍त तीनों मंडलों में फैले सिविल,मैकेनिकल तथा आपरेटिंग विभागों के पांच मान्‍यता प्राप्‍त प्रशिक्षण केन्‍द्रों के माध्‍यम से इस रेलवे की प्रशिक्षण जरूरतों को पूरा किया जा रहा है । तथापि निर्धारित प्रारंभिक पाठ्यक्रमों के लिए विभिन्‍न विभागों के सुपरवाइजरों तथा अन्‍य तृतीय श्रेणी के कर्मचारी जेटीआरआई/सीनी तथा एसटीसी/खड़गपुर ( नई रेलों के निर्धारित कोटा के अनुसार) और भारतीय रेल के अन्‍य प्रशिक्षण केंद्रों में प्रशिक्षण के लिए उपस्थित हो रहे हैं । इसके बाद भुगतान के आधार पर वाह्य एजेंसियों द्वारा संचालित विशेष प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के लिए भी अधिकारियों तथा कर्मचारियों को नामित किया जा रहा है ।

 

दक्षिण पूर्व मध्‍य रेलवे के प्रशिक्षण केंद्र

 

क्र.

प्रशिक्षण केंद्र

विभाग/

मंडल

प्रशिक्षण हेतु प्रमुख केटेगरि

प्रशिक्षण का प्रकार (प्रारंभिक,पुनश्‍चर्या, पदोन्‍नति,

विशेष)

प्रशिक्षण कक्षों/सीटों की संख्‍या

छात्रावास में बिस्‍तरों की संख्‍या

1

इंजीनियरी प्रशिक्षण केन्‍द्र( ईटीसी) बिलासपुर

क्र. सं. 165*

सिविल/

बिलासपुर

मेट,कीमैन, गेटकीपर, ट्रॉलीमैन, ट्रैकमैन

प्रारंभिक,

1

22

पुनश्‍चर्या,

पदोन्‍नति

30

2

विद्युत चालक प्रशिक्षण केंद्र(ईएलटीसी) उस्‍लापुर क्र. 199*

विद्युत/ बिलासपुर

रनिंग स्‍टाफ

प्रारंभिक,

पुनश्‍चर्या,

9

237

पदोन्‍नति

250

3

मंडल इंजीनियर प्रशिक्षण केंद्र(डीईटीसी) डोंगरगढ़क्र. 155*

सिविल

मैट्स,

कीमैन, गेटकीपर,ट्रॉलीमैन, ट्रैकमैन

प्रारंभिक,

पुनश्‍चर्या,

1

35

पदोन्‍नति

35

4

डीजल कर्षण प्रशिक्षण केंद्र( डीटीटीसी) मोतीबाग

क्र. 192*

यांत्रिक/ नागपुर

एलपी/एएलपी(बीजी/एनजी)

टेक्निशियन,आर्टिजन खलासी

प्रारंभिक,

पुनश्‍चर्या,

04

22

पदोन्‍नति

50

5

मंडल यातायात प्रशिक्षण केंद्र(डीटीटीसी) डोंगरगढ़

क्र. 135*

परिचालन/ नागपुर

पीबी- 1 जीपी 1800/-

प्रारंभिक,

1

30

पुनश्‍चर्या,

24

6

कर्मचारी प्रशिक्षण केंद्र( एसटीसी/ओपीटीजी) भिलाई

क्र. 137*

परिचालन/

रायपुर

पीबी- 1 जीपी 1800/- एंड शंटिंग मास्‍टर

प्रारंभिक,

पुनश्‍चर्या,

 

1

15

पदोन्‍नति

25

7

बहुअनुशासनिक प्रशिक्षण केंद्र( एमडीटीसी) बिलासपुर

क्र. 222*

सभी विभाग( रेसुब एवं लेखा को छोड़कर) जोनल

गार्ड,पोर्टर,केबिन मास्‍टर,

वरिष्‍ठ रेलपथ सुपरवाइजर, सिगनल व दूरसंचार खलासी सहित ग्रूप सी एवं ग्रूप डी ( पहले) के कर्मचारी

प्रारंभिक ( पोर्टर सिगनल एवं दूरसंचार खलासी) ,

 

04

58

सभी ग्रूप सी स्‍टाफ के लिए पुनश्‍चर्या

96

*भारतीय रेल प्रशिक्षण केंद्रों की संख्‍या रेलवे बोर्ड के दिनांक 27.02.2012 के आरबीई नं.25/2012 के द्वारा परिपत्रित किया गया है ।

 

ए) चालू वर्ष के दौरान प्रशिक्षित प्रशिक्षार्थी ( 30.06.2012 तक )

 

क्र.

प्रशिक्षण केंद्रका नाम

प्रारंभिक

पुनश्‍चर्या

पदोन्‍नति संबंधी

विशेषज्ञ

योग

क्षमता का उपयोग

( % में)

1

इंजीनियर प्रशिक्षण केंद्र, बिलासपुर

100

148

0

0

248

131.47

2

विद्युत चालक प्रशिक्षण केंद्र, उस्‍लापुर

384

381

211

76

1052

133.38

3

मंडल इंजीनियरी प्रशिक्षण केंद्र, डोंगरगढ़

16

72

3

0

91

43.12

4

डीजल कर्षण प्रशिक्षण केंद्र, मोतीबाग

8

91

2

154

255

146.78

5

मंडल यातायात प्रशिक्षण केंद्र, डोंगरगढ़

1

45

0

0

46

17.17

6

कर्मचारी प्रशिक्षण केंद्र(परिचालन) बीएमवाई

0

19

14

26

59

68.00

7

बहुअनुशासनिक प्रशिक्षण केंद्र,बिलासपुर

15

216

0

13

244

49.29

योग

524

972

230

269

1995

-

 

बी) 2011-12 के दौरान प्रशिक्षित प्रशिक्षार्थी

 

( 01.04.2011 से 31.03.2012 तक) प्रशिक्षित प्रशिक्षार्थियों की संख्‍या

 

क्र.

प्रशिक्षण केंद्रका नाम

प्रारंभिक

पुनश्‍चर्या

पदोन्‍नति संबंधी

विशेषज्ञ

योग

क्षमता का उपयोग

( % में)

1

इंजीनियर प्रशिक्षण केंद्र, बिलासपुर

372

667

48

20

1107

125.43

2

विद्युत चालक प्रशिक्षण केंद्र , उस्‍लापुर

831

894

388

474

2587

105.42

3

मंडल इंजीनियरी प्रशिक्षण केंद्र,डोंगरगढ़

170

253

57

0

480

58.39

4

डीजल कर्षण प्रशिक्षण केंद्र,मोतीबाग

27

250

27

256

560

111.26

5

मंडल यातायात प्रशिक्षण केंद्र,डोंगरगढ़

18

142

2

0

162

19.68

6

कर्मचारी प्रशिक्षण केंद्र( परिचालन) बीएमवाई

04

214

0

19

237

28.77

7

बहुअनुशासनिक प्रशिक्षण केंद्र,बिलासपुर

251

927

0

187

1365

86.88

 

योग

1673

3347

522

956

6498

-

 




Source : CMS Team Last Reviewed on: 28-02-2013  


  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.